वाराणसी में हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक कुम्हार का इमामबाड़ा और ताजिया  

12, Aug 2022 | Fazlur Rahaman

वाराणसी के हरीशचंद्र घाट के ‘कुम्हार के ताज़िये’ को हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल माना जाता है . हर साल मुहर्रम के जुलूस में, इस ताज़िये को दोनो समुदाय मिलकर उठाते है .
इमामबाड़े की एक चाबी हिंदू ‘कुम्हार’ परिवार के पास रहती है . देखें भाईचारे की एक नायाब मिसाल, 200 साल पुराना, ‘कुम्हार का ताज़िया’

वाराणसी से CJP ग्रासरूट फेलो फजलुर रहमान की रिपोर्ट

 

Related :

Hands that weave heritage Banarasis, are now reaching out for help!

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Go to Top