Menu

Citizens for Justice and Peace

Equality before Law

CJP in Assam: Reaching hundreds of thousands of people in all 33 districts Our work in Assam intensifies as thousands fill reclaim applications

CJP’s work in Assam is going strong. Our team going to door, all over the 33 districts of Assam, and helping thousands of those genuine Indian citizens who were unfairly excluded from the NRC. Help Us Help Assam. Related: In solidarity with Assam Poverty haunts family of Subrata Dey I would have attempted suicide again…

NPR is NRC: Here’s how What is the link between them?

By clubbing the Census and NPR process together and by issuing contradictory statements , the government is trying to indicate that NPR is not NRC. But it is one and the same process . Find out how. Related: Why the CAA must be opposed, because it discriminates Advocate Mihir Desai’s point by point rebuttal of…

CJP continues fighting on the street, conducts more training and workshops The fight to protect our constitutional values

CJP is out on the streets with citizens of India, fighting the good fight, conducting training, working with volunteers. We will continue to fight for our constitution and help those who need to be heard. Related: CJP works towards release of detainees in Assam CJP in action in Assam: Reaching remote villages to render counselling…

NPR-NRC सिर्फ़ मुस्लिम विरोधी नहीं है Social Activists explain how NPR-NRC is discriminatory

जानी-मानी हस्तियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भारत की मुस्लिम आबादी के अलावा उन लोगों के बारे में बताया, जो राष्ट्रव्यापी एनपीआर-एनआरसी और सीएए से सबसे अधिक प्रभावित होंगे। Related: Why the CAA must be opposed, because it discriminates Advocate Mihir Desai’s point by point rebuttal of the GOI’s FAQ on CAA/ NPR-NRC NPR-NRC – FAQs

NRC को समझने के लिए NPR को समझना ज़रूरी है Teesta Setalvad explains NPR-NRC

हिंदुस्तानी कौन है? ये कौन तय करता है? सुनिए तीस्ता सेतलवाड़ से की संविधान और कानून इस बारे में क्या कहते हैं। जानिए असम में क्या हुआ था। NPR NRC तक कैसे जाता है, NRC है क्या चीज़ और नागरिकता के इस बहस का आधार क्या होना चाहिए? Related: Why the CAA must be opposed,…

हमारे आदिवासियों की नागरिकता का क्या सबूत होगा: संभाजी भगत Dalit Musician and Activist speaks about NPR-NRC and CAA

सुनिए, महाराष्ट्र के सुप्रसिद्ध गायक संभाजी भगत CAA और देशव्यापी NPR-NRC के बारे में क्या कह रहें हैं . Related: नागरिकता पर क्या बोले कन्नन गोपीनाथन India’s poorest citizens will bear the brunt of NPR-NRC Why the CAA must be opposed, because it discriminates

जब कागज़ ही नही होगा, तो सबसे ज़्यादा असर गरीबों पर होगा: एन साई बालाजी EX- JNUSU President talks about the repercussions of Nationwide NRC

JNUSU अध्यक्ष (2018-19) एन साई बालाजी ने बताया CAA और NRC के कारण किनको सबसे अधिक भुगतना पड़ेगा. Related: नागरिकता पर क्या बोले कन्नन गोपीनाथन India’s poorest citizens will bear the brunt of NPR-NRC Why the CAA must be opposed, because it discriminates UP पुलिस के दमन का आँखों देखा हाल

जो वोटर हैं, ये उन्ही की नागरिकता को ख़तरे में डाल रहे हैं: कविता कृष्णन Human Rights Activist speaks about NRC procedures in detail

सुनिए सुप्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता कविता कृष्णन, CAA और NRC के दिशानिर्देशों के बारे में क्या कह रही हैं | Related: नागरिकता पर क्या बोले कन्नन गोपीनाथन India’s poorest citizens will bear the brunt of NPR-NRC Why the CAA must be opposed, because it discriminates UP पुलिस के दमन का आँखों देखा हाल

भारत में कितने लोगों का जन्म पंजीकरण हुआ है : मिहिर देसाई Human Rights Lawyer raises crucial questions on CAA and NRC

उच्च न्यायालय के वरिष्ठ वकील मिहिर देसाई से जानिए कि आखिर CAA और NRC असंवैधानिक क्यों है| Related: नागरिकता पर क्या बोले कन्नन गोपीनाथन India’s poorest citizens will bear the brunt of NPR-NRC Why the CAA must be opposed, because it discriminates UP पुलिस के दमन का आँखों देखा हाल

नागरिकता पर क्या बोले कन्नन गोपीनाथन #NoCAA #NoNPR #NoNRC

आईएएस अधिकारी कन्नन गोपीनाथन ने अगस्त में जम्मू-कश्मीर में हो रहे दमन के विरोध में इस्तीफा देकर एक मिसाल क़ायम की थी । इस विडीओ में सुनिए उनको कहते हुए कि कैसे CAA-NRC-NPR देश को कैसे ठेस पहुंचाएगा, छात्रों के आंदोलन ने उन्हें किस तरह प्रभावित किया है और उन्होंने इस्तीफा क्यों दिया था। वे लोगों से…

Go to Top