आदिवासी और वन अधिकार कार्यकर्ता वन-निवासियों के लिए आवाज उठाते हुए एकजुट हुए आदिवासी नेता सोकालो गोंड AIUFWP की नई अध्यक्षा चुनी गईं.

13, Dec 2021 | CJP Team

ऑल इंडिया यूनियन ऑफ़ फ़ॉरेस्ट वर्किंग पीपल (AIUFWP) के दूसरे राष्ट्रीय सम्मेलन से बुलंद हुई विभिन्न आवाज़ सुनें.
आदिवासी और वन अधिकार कार्यकर्ताओं, प्रमुख संगठनों के नेताओं और जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं ने हमारी वन भूमि, वन-निवासी समुदायों की रक्षा के महत्व के बारे में बात की और वन अधिकार अधिनियम (FRA, 2006) को लागू करने की चुनौतियों के बारे में बताया.

Related:

AIUFWP’s 2nd National Conference begins

Adivasi struggle led by trailblazers working on-ground: Teesta Setalvad

AIUFWP announces second National Conference to discuss land and forest rights

Forest resource rights vs. Land rights under Forest Rights Act

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Go to Top