नब्बे प्रतिशत मीडिया सिर्फ दस प्रतिशत लोगों को कवरेज दे रहा है: आरफा खानम Netizens for Democracy

07, Feb 2019 | CJP Team

आरफा खानम उन चंद पत्रकारों  में से एक हैं जो खुल कर हिंदुत्ववादी राजनीती का विरोध करतीं है, जो मोदीराज में भी सच्ची पत्रकारिता पर विश्वास रखतीं है।  इसके फ़लस्वरूप उन्हें organized trolling का निशाना बनाया जाता है।  एक अल्पसंख्यक समुदाय की महिला होने की वजह से भी हर कदम पर उन्हें कई कठिनाओं का सामना करना पढ़ रहा है. मुंबई में आयोजित Netizens for Democracy में आमंत्रित आरफा जी से Citizens for Justice and Peace की यह ख़ास बातचीत।

 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Go to Top