Menu

Citizens for Justice and Peace

UP

क्या बुलंदशहर की हिंसा एक सोची-समझी साज़िश थी? देखिये CJP की ख़ास जांच।

हाल ही में हुए बुलंदशहर हिंसा में दो लोगो की जानें गईं। यह हिंसा कथित तौर पर गौ-हत्या प्रकरण के चलते हुई। लेकिन हिंसा के पहले और बाद में सोशल मीडिया में फैले वीडियो, पोस्ट्स और अन्य ख़बरों की जांच पड़ताल से ऐसा लगता है कि कहीं पूरा मामला एक पूर्व नियोजित षड्यंत्र तो नहीं?…

Sokalo Gond Released from Jail Today Victory for CJP and AIUFWP's campaign to release forest rights defenders

Sokalo Gond an Adivasi human rights defender & executive committee member of AIUFWP was illegally incarcerated since June 2018. Despite being granted bail on October 4, technical & procedural issues kept Sokalo behind bars till today. After 5 long months in jail she walks free today. Related: A Beautiful Show of Solidarity: Activists group reaches…

Teesta Setalvad and Roma talk to Adivasi Human Rights Activists and Forest Dwellers in Sonbhadra, UP, India

इससे न सत्य मिलेगा न ही न्याय : NHRC की अपर्याप्त जांच पर AIUFWP सचिव रोमा की प्रतिक्रिया मई महीने में सीजेपी और AIUFWP द्वारा की गई साझी शिकायत पर NHRC का जवाब

ऑल इंडिया यूनियन ऑफ फ़ॉरेस्ट वर्किंग पीपल (AIUFWP) की सदस्य रोमा ने 20 जून 2018 को सीजेपी की सचिव तीस्ता सेतलवाड़ के साथ संयुक्त रूप से एक शिकायत दर्ज कराई थी. इस शिकायत के सम्बन्ध में 20 सितंबर 2018 को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) से एक जवाब प्राप्त हुआ. ये शिकायत, उत्तर प्रदेश (यूपी) के सोनभद्र के लिलासी गांव में पुलिस द्वारा बरती…

Sokalo Gond granted Bail Huge victory for the Adivasi struggle in Sonbhadra, UP

Adivasi human rights defender Sokalo Gond had been illegally incarcerated since June 8th 2018 and was granted bail today. She is the member executive council of the All India Union of Forest Working People (AIUFWP). In this video, she talks to CJP about the Adivasi struggle in Sonbhadra, Uttar Pradesh, and the steps that they…

Kismatiya and Sukhdev Released Victory for CJP and AIUFWP's campaign to release forest rights defenders

We’ve just had a huge victory in our campaign for Adivasi forest workers in Sonbhadra. Kismatiya Gond and Sukhdev Gond have finally been released. Now, we await the bail hearing for Sokalo Gond, who serves as Member Executive Council of the AIUFWP.     Related: Victory! Kismatiya and Sukhdev, Adivasi HRDs from UP released on…

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पर हमला : कुछ सवाल क्या किसी लोकतांत्रिक देश में पुलिस का इस तरह से पक्षपाती होना उचित है?

पिछले कुछ दिनों से अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्नाह की तस्वीर को लेकर बवाल मचा हुआ है. ऐसा कहा जा रहा है की राष्ट्रवादियो और AMU के छात्रों के बीच टकराव हुआ – सच असल में क्या है, इस विडियो में देखिये   Related Articles: CJP Questions AMU Violence Struggle not for Jinnah but against…

Go to Top