Menu

Citizens for Justice and Peace

Babri Masjid

Ayodhya ka Chaiwala

“खेत अधिग्रहित हो गया, मुआवज़ा नहीं मिला। अब चाय बेच के गुज़ारा करतें हैं” : अयोध्या का चाय वाला Voices from Ayodhya : A Peace Initiative

शिवम् के दादाजी की फूल और सब्जियों के खेती थी। सारा उत्पाद अयोध्या में ही बिक जाता और परिवार कुशल-मंगल रहता था। परन्तु बाबरी विवाद छिड़ने के बाद, उनके खेत की ज़मीन सरकार ने अधिग्रहित कर ली और शिवम् के अनुसार उन्हें कोई मुआवज़ा नहीं दिया गया। आज यह नवयुवक चाय बेच कर अपने परिवार…

Babri Masjid: A Forgotten Past The Socio-Cultural and Political environment at the time of the Babri Masjid Demolition

December 6, 1992 is one of the darkest days in Indian history. On this day religious extremists tore down the centuries old Babri mosque in Ayodhya, and with it, they also shredded the delicate secular fabric of India. This documentary shows the build up to the demolition and how the case has unfolded since then.

अयोध्या में शांति के लिए सीजेपी [CJP] का हस्तक्षेप

सिटिज़न्स फॉर जस्टिस एंड पीस [CJP], सांप्रदायिकता और भेदभाव से लड़ने के लिए समर्पित एक मानवाधिकार और कानूनी संसाधन मंच है, जो सभी के अधिकारों के लिए लड़ता है, अब अयोध्या में शांति के लिए, विभिन्न प्रमुख भारतीयों की एक बड़ी आकाशगंगा के साथ, समाज के अलग अलग पहलुओं से और देश के कोने कोने…

CJP intervenes for Peace in Ayodhya

Citizens for Justice and Peace, a human rights and legal resources platform dedicated to fighting communalism and discrimination, and for the rights of one and all, is now intervening in the Ram Janm Bhoomi – Babri Masjid case along with a galaxy of prominent Indians from various walks of life, from across the length and…

अयोध्या में शांति के लिए एक विनम्र अनुरोध #प्रेम्जन्म्भूमि : एक कदम भाईचारे की ओर

अयोध्या वह भूमि है जहाँ युद्ध की अनुमति नहीं है| कृपया इस पवन नगरी में नफरत और खून ख़राबा न फैलने दें| हमारे ऑनलाइन पेटीशन https://cjp.org.in/peace-in-ayodhya/ पर हस्ताक्षर कीजिये| अयोध्या को प्रेम जन्म भूमि बनाइये|

Go to Top