Menu

Citizens for Justice and Peace

Ayodhya Stories

“चाहे मंदिर बने, चाहे मस्जिद बने, हमको कोई मतलब नहीं है!” Voice from Ayodhya : A Peace Initiative

राम जन्म भूमी – बाबरी मस्जिद विवाद में जिस ज़मीन की बात होती है, वहां “सीता की रसोई” नमक एक स्थल है| पर आज के अयोध्या शहर में गृहणियां किस प्रकार आर्थिक परिस्थितियों से जूंह रहीं हैं इसका अंदाज़ा लगाना मुश्किल है| आइये जानते हैं की आज की सीता की रसोई में क्या पक रहा…

Ayodhya ka Chaiwala

“खेत अधिग्रहित हो गया, मुआवज़ा नहीं मिला। अब चाय बेच के गुज़ारा करतें हैं” : अयोध्या का चाय वाला Voices from Ayodhya : A Peace Initiative

शिवम् के दादाजी की फूल और सब्जियों के खेती थी। सारा उत्पाद अयोध्या में ही बिक जाता और परिवार कुशल-मंगल रहता था। परन्तु बाबरी विवाद छिड़ने के बाद, उनके खेत की ज़मीन सरकार ने अधिग्रहित कर ली और शिवम् के अनुसार उन्हें कोई मुआवज़ा नहीं दिया गया। आज यह नवयुवक चाय बेच कर अपने परिवार…

Babri Masjid Demolition
Go to Top